Transcribe
स्वागत है आप सभी को ऑपेनडॉक में ओपन टॉप केक और एपिसोड के संग मैं हूं आपके संग से शाम को लेकर आता हूं आपके लिए टुडे न्यूज़ और बिग न्यूज़ में अप्लाई फॉर बेटर चेंज कर रहे हैं और थोड़ा चेंज हुआ राज कर रहे हैं और कोशिश करेंगे कि किसी एक मुद्दे पर आपसे चर्चा की जाए कपड़े तो दिनभर की आपको मिलती हैं पर किसी एक खास मुद्दे पर चर्चा की जाए और आज का मुद्दा है झारखंड में हुए हाल के विधानसभा चुनाव जहां से निकल कर आए हैं जो हमारे माननीय विधायक महोदय उनमें आधी से ज्यादा पर विधायकों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं और कुछ हल्के-फुल्के नहीं गंभीर आपराधिक मामले भी दर्ज हैं और बड़े गंभीर किस्म के लोग हैं जो इस पर बातचीत करने के लिए गंभीर मेहमान हमारे साथ जो हमेशा हंसती मुस्कुराती रहती है तो चल आती रहती है जाती रहती हैं पुती रहती है शांति रहती हैं समझ गए होंगे मैं किसकी बात कर रहा हूं आरजीपीजी बोले तो बबीता जैन कैसी है बबीता जमाव बिंदु आया कि नहीं फाइनली आपका जमाव बिंदु बहुत जल्दी हम खुद ने फंदे से आपका क्या मतलब है वह मुझे समझ में नहीं आया क्योंकि कुत्ते मानते तो कुछ और ही कोई कुछ कोई और ही है बाकी मेरी बात करी जाए तो मैं बहुत बढ़िया हूं मस्त हूं फिट एंड फाइन हूं ओपन टॉप पर आपके साथ हूं थैंक यू अगेन मुझे अपने साथ ओपन टॉप पर डिस्कशन पर लेने के लिए भी आप कर जाती है अपनी दुकान से और किसी को कुछ भी कह देती है बिल्कुल भूल ही की तरह आपकी जुबान चलती है दाएं दाएं दाएं दाएं दाएं जैसे कि मैंने आपको अभी तक कुछ कहा नहीं है अगर आप चाहते हैं सुनना तुम्हें भूल सकती मेरे को कोई प्रॉब्लम नहीं है मैं चाह रहा था कि आप हमारे कुछ माननीय विधायक जो झारखंड के हैं मेले जो नई एमएलए चुने गए हैं उनके बारे में बातें करें तो ज्यादा अच्छा रहेगा बाबे गी क्या विधायकों की जो यह झारखंड विधानसभा है वहां 44% जो है मतलब 54% अधिक विधायकों के ऊपर तकरीबन अपराधिक मामले हैं 44 विधायकों पर आपराधिक मामले हैं और इनमें से 34 के ऊपर गंभीर अपराधिक मामले और अपराधिक मामले को किस तरह के हैं बकरी का बलात्कार हत्या हत्या का प्रयास अपहरण महिलाओं के ऊपर अत्याचार ऐसे ऐसे अपराध है सोचो 32 हमारे 34 माननीयों जिनके ऊपर खुद अपराध है वह क्या करेंगे देश का राज्य और क्या सरकार संभालेंगे और क्या राज्य को संभालेंगे बहुत बड़ा सवाल खड़ा यह सवाल थोड़ी है यह तो शुरू से चला हुआ आ रहा है ना और आपको शायद नहीं पता सब मिस्टर जीशान की राजनीति में आने के लिए या कोई भी मंत्री पद लेने के लिए यह जो आपराधिक मामले हैं ना यह सर्टिफिकेट का काम करते हैं सब सबसे बड़ा पैरामीटर है कि किसने सबसे आधा गंभीर अपराध किया है उसको उतना ही बड़ा पद दिया जाए और शायद यही एक वजह है हमारे देश में बलात्कार जैसी चीजों पर हत्या जैसी चीजों पर अपहरण जैसी चीजों पर कोई कानून भी जल्दी से बनता नहीं है और लोग उनको खींचते हैं डेट पर डेट देते हैं उनको गलत लाडली दे देते हैं दलीलों दलीलें दे दे कि वह आगे बढ़ाते हैं और 10 सालों साल बलात्कार पीड़ित पीड़ित आया तो मर जाती है या वह चुप हो जाती है या वह मतलब कहीं गुम हो जाती है ऐसा कुछ हो जाता है और कुछ होता नहीं है और वह अपराधी बच के निकल जाते हैं और कुछ टाइम के बाद में देखते हैं अरे यह तो राजनीति में वही नेता जिसने ऐसा किया था तो आप ही क्या बोल रहे हैं मुझे थोड़ासा अजीब सा लग रहा है यह तो भैया एक सर्टिफिकेट है एक डिग्री है किसी भी मंत्री पद के लिए मंत्री साहब जो मामले में आए थे चर्चा में आए थे उम्र मिली है उन्हें उम्र भर जेल में रहे क्या फर्क पड़ता है एक बात बताइए जेल में जाकर उनको भी वीआईपी ट्रीटमेंट मिलता है उनको जो उनकी मन का खाना होते वह मिलता है उनको उनको बुकिंग के लिए चीजें प्रोवाइड कराई जाती है उनका जो जेल का जो कैबिनेट कह सकते हैं शुरू में जहां पर उनको ठहराया गया है वहां पर वह सारी फैसिलिटी होती है जो उनके घर पर होती है तो उनके लिए जेल क्या और घर क्या यह कह सकते हैं फाइव स्टार होटल का रूम क्या बिल्कुल बजे रिपोर्ट है झारखंड इलेक्शन वोटर एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने निकाली है और 81 अभिनव अधिक विधायकों की जांच की है उन्होंने शपथ पत्र थे उनमें से ये बातें निकल कर आई अब देखिए ना करोड़पति कितने टॉप टॉप के करोड़पति हैं इसमें आप देखिए कि भाजपा के जो हैं 25 विधायकों की जो एवरेस्ट संपत्ति है वह पांच कर के आसपास में कांग्रेस के 16 विधायकों की करीब सवा चार करोड़ के आसपास से एक अजूबा है उसकी 10 करोड़ के करीब की संपत्तियां मतलब कितने धनवान लोगे 28 करोड़ की संपत्ति है किसी ताकत के पास तो किसी के पास 27 करोड़ की है और मालामाल सांसद हैं और मालामाल वो अपराधिक मामलों में भी हैं और आंकड़े कोई भी पार्टी उठा लो बबीता चाहे भाजपा हो चाहे झारखंड विकास मोर्चा हो चाहे कांग्रेस हो सबके दादा मंजू है ना ऐसे दागी विधायकों से भरे पड़े हैं कोई भी पार्टी साफ-सुथरी तो नजर आती ही नहीं है यह भी एक बहुत बड़ी विडंबना है जहां पर नोटबंदी का मामला आता है जहां पर यह बोला जाता है कि भाई हमने यह नोटबंदी इसलिए की ताकि जितना भी काला धन है उसको हम बाहर निकाल सके तो उस पार्टी के विधायक भी अगर इतनी ज्यादा संपत्ति दबा कर बैठे हैं तो कौन सा काला धन बाहर निकला है नहीं आता भाई पीछे तो हम और आप जैसे लोग हैं हम और आप जैसे लोगों को तकलीफ है ज्यादा उठानी पड़ी है बाकियों की साथ उनको पहले से सूचित किया गया होगा जो भी किया होगा डबल आई डोंट नो लेकिन बात यह है कि हम जैसे लोग पूछते हैं और हम जैसे जनता को ही लोग बेवकूफ बनाते हैं और अपनी राजनीतिक रोटियां सेकते हैं और हम लोग यह कब समझेंगे कब हम एक सही नेता को चुनेंगे वह मुझे अभी भी चीजें होती भी नजर नहीं आ रही प्यार मोहब्बत पर आई थी तो मैंने सारी दिल्ली कर रही है और उनके उनके ऊपर ट्रस्ट दिखाने वाली नहीं थी दिल्ली में लोग थे ऑटो रिक्शा से लेकर के जिनके पास बहुत बढ़िया गाड़ी है वह सब इवन जो हमारी फीमेल थी वह तो ज्यादा ही सेंटी थी कि भैया हमने जो है वह आप पार्टी को वोट देना है क्योंकि आप पार्टी बहुत पूरे ब्ला ब्ला ब्ला ब्ला ब्ला ब्ला ब्ला एंड सर्टेनली हमारे केजरीवाल जी को कोई दौरा पड़ता है वह पहले दो बार इस्तीफा देते हैं फिर वापस आते हैं फिर फिर दोबारा से पता नहीं क्या कुछ खुराफात करते हैं तो अब मतलब बात ही आ गई कि लोगों ने अब उन पर ट्रस्ट करना छोड़ दिया है क्योंकि जो इंसान अपनी जुबान पर नहीं लग रहा जिस इंसान के लिए लोगों ने जी जान लगा दिया कि भैया इसको हमें पूरे बहुमत से जिताना है और उसने जब उठ कि नहीं पाया तो क्या फिर मैं फिर क्या तो अब मैंने तो शायद वोट मैं आप किसी पार्टी को वोट नहीं देती क्योंकि मुझे पता है कि सारे के साथ हां सारे के सारे एक ही थाली के चट्टे बट्टे तू राजनीति से तो देखिए ट्रेडमार्क है वैसे यह माफिया जो आए थे यह अपनी इनकम टैक्स की जॉब छोड़कर आए केजरीवाल अंकल और उन्हें छोड़ा और कहा हम नई तरह की सरकार बनाएंगे हम बदलाव लाएंगे हमें फिल्मी जैसा एक सीन दिखाया कि फिल्मों में ऐसा होता है लेकिन रियल लाइफ में आकर सब चीजें वैसे ही हो जाती है यह पार्टी भी वैसे ही आप पार्टियों की तरह अपने लोगों को अब लाइक करने में अपने लोगों को पैसे दिलाने में लगी हुई है बाकी बातें लेकिन हम तो झारखंड की चर्चा कर रहे थे पर घूम फिर के सारे देश का हाल है चाहिए साउथ में हम देखते हैं हालात कुछ दूसरे हैं दिल्ली के हालात कुछ दूसरे हैं और पता है आपको केजरीवाल अंकल ने एक नया नारा लाए हैं 5 साल बीते अच्छे 5 साल लगे रहो केजरीवाल तुलसी का झाड़ू आया है आपके लिए फ्री हुई मेट्रो में सफर का झाड़ उन्होंने देने की कोशिश की पर केंद्र सरकार ही पाया मिल रहा है फ्री में वह कहीं पर भी आ जा सकती हैं जो समझदार लोग हैं उनको पता है कि अभी तक उन्हें वोट लेने के वोट पाने के लिए स्टैंड है इसके अलावा और कुछ नहीं है जैसी वह अगर उनकी पार्टी बहुमत में आ जाती है तो सारी की सारी चीजें वापस से कैसी हो जाएंगी जैसे पहले थी 4 साल के बाद अपने वादों पर काम किया सीसीटीवी लगाए फ्री वाई-फाई लेकर आए हैं और बहुत सारी चीजें आई हैं तो सोचती है यह पार्टी की पूरी कितनी दे दो दिल्ली की जनता आपको फ्री में वोट भी देगी देखते क्या रहता है इस बार बजे झारखंड में तो जो जनता ने वोट दिया है वह अपराधिक मामले वालों को ज्यादा दिया है तो हमें और आपको थोड़ा बगैर रहना होगा आपने यह जो माननीय विधायक हम सुनते हैं उनकी जांच पड़ताल अच्छी तरह से कर दी होगी देखना होगा कैसे हैं वह कैसा बैकग्राउंड है उनका पढ़े लिखे हैं अनपढ़ है अंगूठा छाप है या इस तरह से रिकॉर्ड लेकर घूमते हैं अपनी जेब में अपराधों का रिकॉर्ड लेकर घूमते तो यह हमें देखना होगा यह समझना होगा कि हम चाहे की भी ढंग से हमारा हमारा जो विधायक चुन के आया जो मंत्री चुन रहे हैं खुदा की ना हो वह बिल्कुल लेकिन हो तो हमें उसके लिए पहले से भी सर्च करना होगा उसके बारे में पता लगाना होगा कि उसकी कितने आपराधिक मामले हैं यह कितने आपराधिक मामले नहीं हैं तो वही है कि हम लोग धीरे-धीरे 6 डिटेक्टिव बन जाएं या अब हमें भी सर्च करना अच्छा आ जाए पूरा पेशेंट वाले बन जाए हम लोग तो यह जरूरी चीज हम सिखा देंगे देश को मिले आपके राज्य को मिले यही उम्मीद हम कर रहे हैं और इसी नोट के साथ मुझे लगता है बबीता प्रोग्राम को समाप्त करना चाहिए हमारे साथ काफी लोग जुड़े हैं और जो नहीं जुड़ पाए हैं वह हमें फॉलो करें हमारे प्रोग्राम तो सब्सक्राइब अरे तो पाएंगे टुडे न्यूज़ मैं आपके लिए लेकर आता हूं और आप क्या लेकर आती बबीता रोजाना एक बड़ा धमाकेदार दवाई मेरा सोच है और आपका तो बिग न्यूज़ का होता है जो कि अभी हमने किया तुम्हें जितने भी हमारे ओपन टॉक के लिसन हैं वह अगर हमें ऐसे ही डिस्कशन करते हुए सुनना चाहते हैं तो भी फॉलो कर लीजिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब कर लीजिए लाइक कर लीजिए जो भी आपकी श्रद्धा और इच्छा हो वह आप कर सकते हैं अपनी अपनी भावनाओं के साथ कार्य की जगह हम अपनी भावना आपके लिए अच्छी लेकर चलते हैं आपको अच्छे-अच्छे टॉप्स आपके लिए लेकर आते हैं ऐसे ही बने रहेंगे आपके साथ आप हमारे साथ बने रहिए लालमति दीजिए गुड नाइट बाय-बाय सबक है