Transcribe
आई वांट ओके भैया कोई लाइव इन 4 सेकेंड्स वेरी गुड मॉर्निंग वेलकम बैक टू टॉक शो हेल्थी टेस्टी आज मेरे साथ लाइन पर है मिस्टर प्रश्न गुप्ता जो कि फाउंडर एंड सीईओ है सात्विक ओके और आज का मारा टॉपिक हैरिसन चेंज इन फूड प्रिंसेस यानी कि हमारे खाने-पीने के बदलते हुए टेस्ट और लाइक ए को लेकर आना चाहेंगे क्या सोच और आप यूज है इस टॉपिक को लेकर स्काल्पे मुझे लाइट करने के लिए मुझे टुडे अजमेर शरीफ आदमी की काफी बदल रही है मेन एंड विमेन दोनों ही तो पहले के जमाने में जितने लाइट चालू हुआ करता था तो कहीं ना कहीं पहले घर में गेहूं के खेतों से खुद विश्वा के उससे फिर चूड़ियां बनती थी आज वोट से बदल गया है आज अपने जो जो आता है वह बाजार से पैक करके लेकर आते हैं और उससे भी असली रोटी वगैरा बनाते हैं पहला ट्रेन था कि लोग काफी ज्यादा बिजी हो गए हैं बड़ी-बड़ी वर्किंग एंड सेकंड को सबसे ज्यादा हम देख रहे हैं कि आजकल जो फैमिली है अगर वह उनका 120 की लाइफ स्टाइल देखे हैं तो उसमें ट्रैवलिंग एक बहुत बड़ा पाठ बन गया जयपुर टूरिज्म अकेले हो चाहे वह काम के लिए हो क्या वह किसी और वजह से हो आजकल जो बच्चे हैं वह पेरेंट्स से दूर रहते हैं तो जब भी छुट्टियां होती हैं जब भी कोई दूसरा त्यौहार होता है कुछ लिबरेशन होता है उसमें भी ट्रैवल करते हैं दूसरा लोगों का तुम्हारी इंटरसेक्शन डेवलपमेंट हुआ है पिछले 20 साल में और ट्रैवलिंग पर्स अक्षर में उस वजह से लोगों का घूमना फिरना ट्राई करना काफी बढ़ गया आजकल तो इन दो बदलते ट्रेंड की लाइफ स्टाइल ट्रेन की वजह से खानपान में काफी बदलाव आया और एक तो आप देखेंगे कि हम लोगों के घरों में जिस तरह की चीजें हम पहले खाते थे जब हम छोटे थे अब थोड़ी सी डिफरेंट टाइप से हो सकता है कि हम शिमला की जांच भी खाते हो पर बिलकुल डिफरेंट तरीके से बनाई हुई एंड बिल्कुल द कंट्री के प्रेजेंट की हुई वह चीजें हम लोग कल जिम करते हैं जैसे कि मैं एग्जांपल लूंगा कि पहले के जमाने में जब अचार खाना होता था तो घरों में जो अचार होता था वह नानी के यहां से दादी के यहां से मम्मी अचार को बनाती थी हम लोग को अचार खाने का शौक अभी भी है तो आप देखेंगे कि अचार खाने के शौक खत्म नहीं हुए खाने के तरीके बदल गए हैं आज आपको डिश रेसिपी उनकी आपको बाजार में मिलेंगे इसके अलावा काफी इंटरेस्टिंग टिप्स जो आ गया है आजकल कि हम लोग वैरायटी ग्रीन कंपनी की जाती है जो पूरा लोगों के चॉइसेज हैं वह काफी कुछ उनके एक्सपोजर और जो उनका लाइफस्टाइल है जो बदलते दौर में निकला है उसके कारण काफी बदलाव राइट सुप्रसन्ना सी योर ओनर ऑफ फूड ब्रांड बाय ओर सेल आपको क्या लगता है कि जो यह चेंजेज आ रहे हैं हमारे खाने और पीने के तरीकों व ह द फ्रूट बैंड आपको कैसे प्राप्त करते हैं हम लोगों के लिए यह काफी पॉजिटिव है क्योंकि पहले के जमाने में क्या होता था कि लोगों का सपोर्ट हर काम होता था जो भी चीज उनको टीवी पर इतनी थी या जो भी चीज उनका कोई भी जना जिसने ट्रैवल किया मान लीजिए कोई बंदा यूएस हो क्या या और इंडिया में आए इस तरह की बाहर से आ रही है वह कभी टाइपिंग है लेकिन आज आप देखेंगे कि हमारे देश में क्योंकि लोगों का सपोर्ट बढ़ गया है तो इसके काफी सारे नए ब्रांड आ गए हैं जो काफी इंटरेस्टिंग खाने के प्रोडक्ट को मार्केट में लेकर आओ पहले उनकी तरफ लोगों का रुझान था वह काफी कुछ कम हो गया अब लोग अपने यहां की चीजों को और नए इनोवेटिव फॉर्मेट में अंजुम करना पसंद करते हैं तो एक हमारे लिए बहुत अच्छा है क्योंकि हम लोगों का है सात्विक वे द प्लांट फिलॉसफी यही है कि जो भी चीजें लोगों को आज तक खाना पसंद था जो वह खाते आ रहे हमें अभी मैं जिसको वह जो उनके इमोशंस और जो उनके दिल से जुड़ी हुई थी उसको आजकल के एक्साइटिंग और मॉडर्न अवतार में प्रकट कर रहे हैं जैसे कि मैंने पिछली टॉप में भी बताया था हमारे प्रोडक्ट खाकरा खाकरा एक बहुत ही जल्दी वैरीअंट है जो राजस्थान गुजरात में काफी पॉपुलर था मैं लोगों चिप्स खाने का शौक था लोग चाहते थे कि हमें चिप्स मिले हमें कुछ ऐसा मिले जो बाइट्राइज जो जिसको हम ऑन द गो खा सकें जिसको हम ऑफिस में बैठ कर खा सके तो हमने भी ज़िक्र किया और आजादी के खतरा चित्र मारा बेस्ट सेलिंग प्रोडक्ट है जो मेरा मानना यह है कि इस बदलते ट्रेंड की वजह से लोगों को एक तो अपनी चीजों के बारे में जो पहले लोगों के अंदर एक रोज नहीं था वह काफी बढ़ गया है दूसरा लोग हेल्थ को लेकर मत कौन से सो गए क्योंकि पहले जो हेल्थ होती थी वह घर में मम्मी आ क्योंकि वह घर में रहती थी या दादी जॉइन संगीत होती थी तो काफी कुछ चीजें घरों में बनाई जाती थी और काफी हेल्दी होती अब क्योंकि वह पॉसिबल नहीं है तो लोगों में कॉन्शसनेस वर्ड खेल काफी बढ़ गया तो लोग जो भी चीज खरीदते हैं उसमें देखते इनग्रेडिएंट क्या है इंडियन से हमें क्या फायदा हो रहा है वह इनग्रेडिएंट क्या उनका क्या स्टेशन है कि वह हमारे लिए बेनिफिशियल है रिटेल दी है कि पुराने जमाने में लोग गुड़ और चना खाते थे और चने से आपकी जो कीमत होती है और आज के जमाने में जब लोगों को वह चीज नहीं मिलती अपने घरों में पहले दादी नानी जब मंदिर जाती थी तो उसी ट्रेन को ध्यान में रखते हुए हमने बहुत ही इंटरेस्टिंग छोड़ चला निकाला और लोगों को क्योंकि वह चाहिए था मिल नहीं रहा था तो लोगों ने एक्सेप्ट किया और आज वह ब्रेड ब्रेड ब्रेड प्रसून थैंक यू सो मच द फर्स्ट फुली एंड अमेजिंग इनसाइटफुल सेक्शन एन आई होप हमारे जितने भी लेसनर से उनको भी पसंद आया होगा एंड आल्सो कि आगे भी जल्द से जल्द हम ऐसे नए टॉपिक पर कनेक्ट करें तब तक के लिए गुड है आज के जमाने में की चीजें बदलेंगे नहीं और हमें भी बदलना होगा लेकिन इस बदलते जमाने में बदलती चीजों में हमें एक चीज हमेशा ध्यान में रखनी होगी जो भी चीजें हमारी रूट से जुड़ी हुई थी जिन भी चीजों से हम लोग रूठते जुड़े हुए थे चाहे वह हमारे यहां के सीरियल शो गेम शो जो भी चीज हम लोग रूट से जुड़ती हैं वह एक अच्छी लगी आपको लगता है कि चीजें हैं उसको आपकी लाइफ में अपनाएं और यश क्योंकि जमाना बदल रहा है तो आपको फॉर्मेट बदले में मिलेंगे और आपको यह सोचने की जरूरत नहीं है कि अब जमाना बदल गया तो मैं जल्दी हो गया आप इतने में भी अपनी हेल्थ और अपने टेस्ट को सब कुछ को मेंटेन करके चल सकते हमारे शो एंड प्रोबेबली हम लक्ष्मी सेम टॉपिक के साथ कुछ और न इंटरेस्टिंग इनसाइट्स लेकर आएंगे तब तक के लिए स्टैचू